खोज करे
  • Mahesh Beldar

What is the meaning of sorrow in life?

अपने जीवन में सब सुखी रहना चाहते हे, कोई दुखी रहना नहीं चाहता, दुःख किसी को अच्छा नहीं लगता, हमारे जीवन में जब दुःख के पल आते हे तो हम परेशान हो जाते हे और सोचते हे की यह दुःख क्यों आता हे? हर वक्त सुख क्यों नहीं रहता? सब दुःख को नापसंद करते हे और उससे दूर ही रहना चाहते हे.





क्यों सुख और दुःख बारी बारी से चलते रहते हे, क्यों हमेशा सुख नहीं रहता? हमेशा दुःख नहीं रहता? जानिए एक छोटी सी story से.


Why Sorrow is Important in Life? जीवन में दुःख क्यों?


एक student था जिसके घर मे एक dog था जिसे वह पहुत प्रेम करता था, वह उसके साथ पुरे दिन खेला करता था, एक दिन अचानक से उस dog की मृत्यु हो गई, वह स्टूडेंट बहुत रोया और दुखी हुआ, कुछ दिनों तक वह school भी नहीं गया.


एक दिन जब वह school गया तब उसने अपने teacher से पूछा, Sir, जीवन में सुख हो यह तो समझ मे आता हे, मगर दुःख क्यों? यह समझ मे नहीं आता.


Teacher ने सोचा की इसका जवाब सीधे शब्दों में दे दिया तो इसे समझ मे नहीं आएगा इसलिए इसका जवाब इसे example के साथ देना पड़ेगा.


Teacher ने कहा, चलो हम नाव में घुमने जाते हे, में वहा तुम्हे इसका जवाब दूंगा.


स्टूडेंट तैयार हो गया फिर वह दोनों नाव में घुमने निकल पड़े.


वह दोनों नाव में बैठ गये, नाव में बैठने के बाद teacher एक ही तरफ चप्पू(Oar) चलाने लगे, नाव आगे बढ़ने की जगह वहा पर ही चक्कर मारने लगी.


Student ने कहा sir यह क्या कर रहे हो? आप का दिमाग तो ठीक हे ना?


Teacher ने कहा, क्यों? क्या हुआ?


Student बोला, अगर आप इस तरह एक ही तरफ चप्पू चलाते रहेंगे तो हम उस किनारे कभी नहीं पहुचेंगे, यही पर ही गोल गोल घूमते रहेंगे, यदि हमे उस किनारे पहुचना हे तो बारी बारी से दोनों तरफ चप्पू लगाना पड़ेगा.

Teacher बोले अरे तू तो बहुत समजदार हे रे, फिर इतनी बात क्यों नहीं समझता की जीवन की नैया भी अकेले सुख से नहीं चलती, सुख के चप्पू के साथ दुःख का चप्पू भी जरुरी हे.


तुम्हे मीठी चीज खाने में पसंद हो और वही तुम्हे सुबह, दोपहर, शाम तीनो time कुछ दिनों तक खाने को दी जाए तो क्या तुम्हे उस मीठी चीज को खाने का मजा आएगा? स्टूडेंट बोला, नहीं, मीठी चीज के साथ तीखी चीज होगी तो ही मजा आयेगा, ठीक इसी प्रकार सुख का मजा तभी आएगा जब जीवन में दुःख होगा, अन्यथा वह भी उस मीठी चीज के समान हो जायेगा.


पसंद आया तो share जरुर करे?

4 व्यूज
  • YouTube
  • Facebook
  • Twitter
  • Instagram

Practical शिक्षा

© 2023 by Practical Shiksha.

Proudly created with practicalshiksha.com

Privacy Policy | Disclaimer

Contact

Ask me anything