खोज करे
  • Mahesh Beldar

How to learn anything and perform your best?

हम जब कोई नयी चीज सिख रहे होते हे तब हम क्या करते हे? हम उसमे ध्यान देते हे, हम बिना ध्यान दिए उस नयी चीज को सिख नहीं सकते, फिर चाहे वह कुछ भी क्यों न हो, हमे ध्यान तो देना ही पड़ेगा, जब हम ध्यान दे रहे होते हे तब हम mentally कहा होते हे? वर्तमान में, भूतकाल में या भविष्यकाल में, obviously वर्तमान में, क्योकि कुछ भी सिखने के लिए हमारा physically and mentally वर्तमान में present होना आवश्यक हे.


किसी जगह पर एक व्यक्ति द्वारा कोई नयी चीज सिखाई जा रही हे, आप वहा physically present नहीं हे, दूसरी situation आप वहा physically तो present हे लेकिन mentally present नहीं हे, क्या इन दोनों situation में आप सिखाई जा रही चीज को सिख पायेंगे, बिलकुल नहीं.


कुछ भी सिखने के लिए आपका physically और mentally वर्तमान में present होना अति आवश्यक हे





इसको एक example के जरिये थोडा और गहराई से समझते हे,


आपको dance सीखना हे, आपने एक dance class join किया जहा dance teacher आपको dance सिखा रहा हे, dance सीखते वक्त हमेशा आपके दिमाग में विचार चलते रहते हे, में जल्दी dance सिखने के बाद TV shows में participate करूंगा, में dance shows जीतूँगा, उसके बाद में famous हो जाऊँगा, हर जगह मुझे चाहने वाले लोग होंगे, वह मेरी एक जलक पाने के लिए तडपेंगे, या उससे उल्टा आप सोच रहे हे,में पिछली बार भी dance सिखने आया था, उस वक्त भी बहुत try किया था लेकिन dance नहीं सिख पाया था, मेरा बहुत समय और पैसे बर्बाद हो गये थे, यदि आप ऐसा सोच रहे हे तो, इन दोनों ही situationमें आप dance नहीं सिख पायेंगे, dance सिखने के लिए आपको इन दोनों से बाहर आना पड़ेगा, मतलब की आपको भविष्य और भूतकाल से निकलकर वर्तमान में आना पड़ेगा तभी आप dance सिख पायेंगे, आपको विचारो से बाहर निकलना पड़ेगा और जो सिखाया जा रहा हे उसपर ध्यान केन्द्रित करना पड़ेगा, देखना पड़ेगा, खुद practice करनी पड़ेगी तब आप dance सिख पायेंगे.


Dance सिख जाने के बाद जब performance देने की बारी आएगी तब भी यह same rule लागू होगा, हमे भूतकाल, भविष्य से बाहर निकलकर वतमान में आना पड़ेगा, stage पर आना पड़ेगा, dance में आना पड़ेगा, आगे की सभी विफलताओ, सफलताओ को भूलना पड़ेगा, सभी विचारो को छोड़ना पड़ेगा, जैसे मुझे इतने सारे लोग देख रहे हे यदि मेने अच्छा performance नहीं दिया तो वह मुज पर हसेंगे, मैंने अच्छा performance नहीं दिया तो मेरे dance teacher का नाम खराब होगा, यदि में winner नहीं हुआ तो मुझे prize money नहीं मिलेगा, prize money नहीं मिला तो में खुदका घर नहीं खरीद पाऊंगा, यहाँ मुझसे भी बड़े dancing stars हे, में उनसे कैसे जीतूँगा etc. इन सबको छोड़ने के बाद जब आप वर्तमान बन जाओगे तब आप जीत जाओगे.


इसे एक और example से समझते हे, एक जगह cricket का match चल रहा हे आप एक batsman हे, आप batting कर रहे हे, आपकी team को जितने के लिए 10 ball में 20 runs की जरुरत हे, batting करते वक्त आप सोच रहे हे की यह जो bowler bowling करने आया हे उसने आगे मुझे 5 बार out किया हे, में इसकी bawling ठीक तरह नहीं खेल पाता, यहाँ ground में इतना प्रेक्षक बैठे हुए हे, tv पर भी मुझे करोड़ो लोग देख रहे हे, यदि मैंने match नहीं जिताया तो वह मुझे बहोत गालिया देंगे, मुझे जुटे मारेंगे, मुझे team में से भी बाहर निकाल दिया जाएगा, मेरा पूरा career खराब हो जाएगा, इसके बाद क्या आप उस match को जीता पाओगे, बिलकुल नहीं, match जीताने के लिए आपको यह सबकुछ छोड़कर वर्तमान में आना पड़ेगा, वर्तमान मतलब कहा? batting pitch पर उसके बाद आपका ध्यान लोगो पर नहीं होगा, लोगो की बातो पर नहीं होगा, आपके साथ क्या हुआ था, क्या होगा उसपर नहीं होगा, आपका ध्यान होगा ground पर, fielders पर, bowler पर, बोल पर, उसके बाद देखना आप कैसे match नहीं जीताते.


Key to learn anything and everything


इसका में एक simple example दू तो, ऐसा मान लेते हे की आपको video game खेलना बहोत पसंद हे, जब आप video game खेल रहे होते हे तब आप सबकुछ भूल जाते हे, आप उसमे खो जाते हे, आपके आस पास क्या हो रहा हे उसकी भी आपको खबर नहीं होती, ऐसी जो present होती हे ठीक वैसी ही present होनी चाहिए, उस वक्त आप और video game उसके सिवा और कुछ नहीं होता, यदि ऐसी present होगी तो ऐसा हो ही नहीं सकता की आप किसी चीज को ना सिख पाओ, या आप अच्छा performance न दे पाओ.


IF YOU LIKE IT SHARE IT WITH OTHERS



34 व्यूज

हाल ही के पोस्ट्स

सभी देखें
  • YouTube
  • Facebook
  • Twitter
  • Instagram

Practical शिक्षा

© 2023 by Practical Shiksha.

Proudly created with practicalshiksha.com

Privacy Policy | Disclaimer

Contact

Ask me anything